Thursday, December 6, 2018

आखिर क्यों होती है पति-पत्नी के बीच लड़ाई, शादी करने वाले जरूर पढ़ें

हिंदू धर्म में रिश्तों की एक अलग भूमिका होती है, रिश्तों के कारण ही देश में एकता बनी रहती है। ये रिश्तों का ही खेल है जिसके कारण हमारे परिवार को समाज में एक अलग दर्जा मिलता है, लेकिन जब बात पति-पत्नी के रिश्ते की होती है, तब मामला थोड़ा बदल जाता है। पति-पत्नी का रिश्ता बेहद नाजुक होता है, पति-पत्नी के रिश्ते के बीच शक करने जैसी चीज बनी रहती है तो, समाज ही इस रिश्ते पर उंगली उठाने लगता है।
मतलब पति और पत्नी के रिश्ते के बीच लड़ाई होने का सबसे बड़ा कारण 'शक 'है, अगर पति और पत्नी अपने सारे मतभेद आपस में ही सुलझा लें तो 'शक' करने जैसी कोई चीज ही नहीं बचेगी। नए दंपति को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि शादी के बंधन में बंधने के बाद रिश्तो में अगर थोड़ी सी भी खटास आए तो उसे तुरंत ही मिठास में बदल लेना चाहिए वरना यह खटास बढ़ती जाती है और रिश्तों को कमजोर करती जाती है।
अगर पति और पत्नी के बीच लड़ाई होती है तो इसका एक प्रमुख कारण बच्चे भी हो सकते हैं, बच्चे मन के सच्चे होते हैं और इनकी देखभाल करना पति और पत्नी का फर्ज होता है। बच्चों की अच्छी शिक्षा से लेकर अच्छी परवरिश तक सभी जिम्मेदारियां मां-बाप की ही होती हैं। अगर ऐसा विवाद किसी के बीच में होता है तो उसे छोटे बच्चों के प्रति अपना काम बांट लेना चाहिए, इस तरीके से होने वाले झगड़ों से बचा जा सकता है।
सामान को लेकर पति और पत्नी के बीच लड़ाई होती रहती है, पुरुषों को जो बात सबसे ज्‍यादा परेशान करती है वो है समान का जगह पर ना मिलना। पति बेहद खफा हो जाते हैं अगर उनको अपना सामान उस जगह पर वापस ना मिले जहां उन्‍होंने रखा था। अब भले ही पत्‍नी ने उसे सुरक्षित रखा हो या किसी और वजह से कहीं संभाल कर रख दिया हो। इस मसले को आराम से ठंडे दिमाग के साथ सुलझाया जा सकता है।

दोस्तों मुझे उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी इसीलिए आपसे निवेदन है कि इस जानकारी को सभी के साथ शेयर करें और हमें फॉलो भी करें।

0 comments: