चुनाव से पहले मुसीबत में फंसे पीएम मोदी, सरकार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप

राजनीति में आरोप-प्रत्यारोप लगना एक आम बात है लेकिन जब चुनाव से ठीक पहले सत्ता में मौजूद पार्टी के ऊपर आरोप लगना शुरू होते हैं तो कहीं ना कहीं वह पार्टी नकारात्मक दिशा की ओर जा सकती है। हाल ही में ऐसा ही कुछ देखने को मिल रहा है, दरअसल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए समय केवल कुछ महीनों का ही रह गया है। ऐसे में सभी पार्टियों एक दूसरे के ऊपर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं।

दिख रही विपक्षी एकजुटता
vblog channel
हाल ही में तमिलनाडु से भी एक खबर आई थी जहां डीएमके के दिग्गज नेता और तमिलनाडु के ही पूर्व मुख्यमंत्री रहे करुणानिधि की प्रतिमा अनावरण को लेकर विपक्षी एकता देखने को मिली है। तमिलनाडु में मौजूद विपक्षी दलों ने 2019 में नरेंद्र मोदी को सत्ता से बाहर निकालने का आवाहन भी किया है। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कहीं ना कहीं विपक्ष में एकजुटता तो देखने को मिल रही है।

मोदी सरकार पर साधा निशाना
विपक्ष में मौजूद कई नेताओं को मोदी सरकार की नीतियां पसंद नहीं आ रही है इसलिए हाल ही में एनडीए के करीबी रहे चंद्रबाबू नायडू ने भी पीएम मोदी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि केवल नरेंद्र मोदी की गलत नीतियों की वजह से आज लोगों का सीबीआई, आरबीआई और सुप्रीम कोर्ट जैसी संस्थाओं से भरोसा उठ गया है। वैसे उन्होंने यह भी कहा कि मोदी सरकार एक झूठ को छुपाने के लिए सौ झूठ बोलती है।

राहुल गांधी ने कही बड़ी बात
युवा जोश और युवा सोच से लबालब राहुल गांधी भी धीरे-धीरे एक मंझे हुए नेता बनते जा रहे हैं। ऐसे में जब पीएम मोदी पर आरोप लगाने की बात आए तो फिर वह कहां पीछे हट सकते हैं। राहुल गांधी ने भी पीएम मोदी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण देश के तमाम संस्थान खतरे में जाते देख रहे हैं, इसलिए 2019 में भाजपा सरकार को हटाना होगा।
ऐसे एक बात तो तय है कि चुनाव से ठीक पहले पीएम मोदी पर विपक्षी नेताओं द्वारा मिलकर लगाए जा रहे आरोप कहीं ना कहीं मोदी सरकार के लिए एक गंभीर विषय है। अगर इस पर कोई बड़ा कदम नहीं उठाया गया तो सरकार को चुनावों में नुकसान उठाना पड़ सकता है। वैसे आप क्या सोचते हैं, क्या सच में मोदी सरकार भ्रष्टाचारी है। आप अपनी राय हमें कमेंट में बता सकते हैं और अगर फॉलो कर सकते हैं।

Disqus Comments