मोदी सरकार ने मुस्लिम समाज के लोगों को दिया तगड़ा झटका, सभी का जानना जरूरी

लोकसभा चुनाव बेहद नजदीक है और ऐसे में केंद्र की मोदी सरकार कोई भी ऐसी गलती नहीं करना चाहती जिसका नुकसान उन्हें 2019 में भुगतना पड़े, इसलिए मोदी सरकार अपने हर फैसले को सोच समझकर लागू कर रही है। लेकिन हाल ही में मोदी सरकार ने मुस्लिम समुदाय को एक तगड़ा झटका दिया है, दरअसल यह मामला मुस्लिम धर्म के पवित्र तीर्थ स्थल मक्का से जुड़ा हुआ है। सरकार की नई नीति के अनुसार मुस्लिम समुदाय के लोगों को मक्का में हज यात्रा करने के लिए पहले की तुलना में अधिक खर्च करना पड़ेगा।

मोदी सरकार ने हज यात्रा को लेकर लिया यह फैसला
हाल ही में मोदी सरकार ने हज यात्रा को लेकर टैक्स में परिवर्तन किया है, जिसके कारण हिंदुस्तान के किसी भी मुस्लिम व्यक्ति को हज यात्रा पर जाने के लिए पहले की तुलना में अधिक धन खर्च करना होगा। जहां पहले हवाई यात्रा करने पर 5% का टैक्स लगता था, वही अब 18% जीएसटी लगेगी।

गरीब मुसलमानों पर पड़ेगा असर

इसके अतिरिक्त हज यात्रियों को सऊदी अरब के अन्य टैक्स भी चुकाने पड़ेंगे। जिसका सीधा असर उन गरीब मुस्लिम लोगों को होगा जिनके पास अधिक मात्रा में धन नहीं है, ऐसे में गरीब मुसलमानों के लिए हज यात्रा करना मुश्किल हो जाएगा। ये फैसला मुस्लिम लोगों के लिए एक झटके के रूप में देखा जा रहा है।

मुस्लिम लोगों के लिए अहम है हज यात्रा
हज यात्रा मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए बेहद अहम मानी जाती है, यात्रा के दौरान पूरी दुनिया से मुस्लिम समुदाय के लोग सऊदी अरब के मक्का नामक शहर में तीर्थ यात्रा के लिए जाते हैं। मुस्लिम धर्म में मक्का शहर को इस्लाम का सबसे पवित्र शहर माना जाता है। हज यात्रा मुस्लिम लोगों के लिए एक धार्मिक कर्तव्य भी है जिसे अपने जीवनकाल में कम से कम एक बार पूरा करना हर मुस्लिम के लिए ज़रूरी होता है। खबर पसंद आई हो तो इसे लाइक करें और इसी तरह की खबर पढ़ने के लिए हमें फॉलो भी करें।

Disqus Comments