अगर एक घर में दो शौचालय मिले तो होगी जेल, पढ़िए यह जरूरी खबर

दोस्तों मोदी सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के गांवों में प्रत्येक घर को एक शौचालय का तोहफा दिया था। लेकिन किसी भूल-चूक के कारण गांव के कुछ लोगों के घर में एक नहीं बल्कि दो शौचालय बना दिए गए। दरअसल मामला उत्तर प्रदेश के इटावा जिले का है जहां जिलाधिकारी को बार-बार यह शिकायत मिल रही थी कि कुछ गांव में एक ही परिवार को दो-दो शौचालय दिए जा रहे हैं।
बार-बार शिकायतें मिलने के बाद जिलाधिकारी एक्शन में आई और उन्होंने इसकी जांच कराने के लिए तुरंत एक्शन लिया, उन्होंने कहा कि जांच के दौरान यदि यह शिकायत सही पाई जाती है तो संबंधित एसडीओ पंचायत तथा ब्लॉक कोऑर्डिनेटर के खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए और जांच के लिए अधिकारियों को नियम भी बताए।
जिलाधिकारी ने सख्त रूख अपनाते हुए कहा कि मोदी सरकार द्वारा चलाए जा रहे ग्राम स्वराज अभियान योजना के तहत चुने गए ग्राम पंचायतों में लोगों को पेंशन तथा राशन वितरण की जानकारी की जाए। कोई भी व्यक्ति इस योजना से वंचित ना रह पाए, इसके लिए उन्होंने अलग से एक कमेटी गठित कर दी है। उन्होंने यह भी बताया कि ग्रामों में सरकार की तरफ से मुक्त शौचालय बनवाए जा रहे हैं।
परंतु कुछ मुनाफा खोर ग्रामों में शौचालय के निर्माण के लिए धनराशि की मांग कर रहे हैं। उन्होंने इसकी जांच के लिए भी अलग से इस टीम गठित कर दी है, कुल मिलाकर देखा जाए तो इस समय योगी सरकार के सख्त रवैया के कारण प्रदेश के सभी जिला अधिकारी कड़े रुख के साथ काम कर रहे हैं और किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतना चाहते हैं। इनका सख्त रवैया कब तक रहता है यह तो देखने वाली बात है।
वैसे एक बात तो है अगर इस मामले में किसी को जेल होती है तो उसने जीवन में कभी सोचा भी नहीं होगा कि भला शौचालय के लिए उसे जील होगी। आपका इस मामले पर क्या कहना है कमेंट में हमें जरूर बताएं और इसी तरह की जानकारी पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें, साथ ही इस जानकारी को शेयर भी करें।

Disqus Comments