हर हाल में होगा बसपा के साथ गठबंधन: अखिलेश यादव

सपा-बसपा गठबंधन को लेकर तरह तरह के बयान सामने आ रहे हैं, लेकिन इसी बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 2019 में बीजेपी को हराने के लिए बसपा के साथ हमारा गठबंधन जारी रहेगा। अखिलेश यादव ने कहा कि हमारा मकसद देश में विकास करने के साथ-साथ झूठे वादे करने वाली बीजेपी को रोकना है।

झूठे वादे करने वाली बीजेपी को सत्ता से हटाने के लिए अगर हमें दो चार सीटों का त्याग करना पड़े तो हम पीछे नहीं हटेंगे और बिना शर्त चुनाव लड़ेंगे। इससे पहले मायावती ने भी एक बयान में कहा था कि वह गठबंधन के लिए तभी तैयार होंगी जब उन्हें सम्मानजनक सीटें मिलेंगी। वही मायावती के इस बयान के बाद अखिलेश यादव के मीठे तेवर गठबंधन के लिए अहम हो सकते हैं क्योंकि समाजवादी पार्टी और बसपा अकेले ही पूरा यूपी जीतने की क्षमता रखते हैं। वहीं अखिलेश यादव के इस बयान के बाद भाजपा के खेमे में हड़कंप मच गया है और भाजपा के बड़े बड़े नेता इस गठबंधन को अनौपचारिक बता रहे हैं।

हाल ही में उत्तर-प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि सपा और बसपा आपस मे लड़कर ही खत्म हो जायेंगे, सपा और बसपा के बीच अनौपचारिक गठबंधन के लम्बा न टिकने का दावा करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले ही यह गठबंधन टूट जायेगा। लेकिन अब अखिलेश यादव के सकारात्मक रुख को देखते हुए लग रहा है कि दोनों दलों के बीच गठबंधन जारी रहेगा।

दोस्तों मेरा आप से निवेदन है कि इस जानकारी को अधिक से अधिक लोगों को शेयर करें ताकि यह जानकारी और लोगों तक पहुंचाई जा सके और इसी तरह खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो भी करें

Disqus Comments